अगर चाहती है भाई की ख़ुशी, तो भाईदूज पर करना न भूलें ये चीज़े…….

अगर चाहती है भाई की ख़ुशी, तो भाईदूज पर करना न भूलें ये चीज़े…….

भाई बेहेन के प्यार को एक डोर में बांधने वाला यह त्यौहार भारत में बहुत लोकप्रिय है। इस दिन भाई का तिलक किया जाता है और उसे गोला दिया जाता है। यूँ तो इस

दिवाली से पहले नहीं ध्यान दिया इन चीज़ो पर, तो चली जाएगी माँ लक्ष्मी………
कौन है कूष्माण्डका माता, इनकी उत्पति कैसे हुई। जानिए यहां…
Free Weekly Horoscope Prediction by

भाई बेहेन के प्यार को एक डोर में बांधने वाला यह त्यौहार भारत में बहुत लोकप्रिय है। इस दिन भाई का तिलक किया जाता है और उसे गोला दिया जाता है। यूँ तो इस त्यौहार की महानता पौराणिक कहानियो में बहुत सुनने को मिलती है लेकिन जब असल ज़िन्दगी बेहेन भाई की माथे पर तिलक लगती है तो यह बताता है की वह अपने भाई से कितना प्यार करती है और किस तरह अपने भाई की लम्बी उम्र की कामना करती हैं।लेकिन, क्या आपको पता है की इसी दिन कई बार महिलाऐं कुछ ऐसी गलती कर बैठती है जिससे उनके भाईका जीवन सुखहाल बनने की जगह बदहाल हो सकता है। इसलिए अगर आप चाहती है की आपका भाई सदा खुश रहें और लम्बी आयु प्राप्त करें तो भाईदूज के दिन ये चीज़ें करना न भूलें:

मुहूर्त के हिसाब से ही करें पूजा- भाईदूज के दिन शुभ मुहरत के हिसाब से ही भाई का तिलक करें। भाईदूज का सबसे शुभ मुहरत जानने के लिए और अपने भाई के जीवन में खुशियां लाने के अन्य उपाय जानने के लिए आप हमारे ज्ञानी पंडितों से संपर्क कर सकती हैं, कॉल करें 8882236236 पर। इस त्यौहार को मानाने के लिए सही समय बहुत अहम् भूमिका निभाता है, अगर यह त्यौहार सही समय पर न मनाया जाय तो इसके उलटे असर हो सकते है।

आसन बनाना है ज़रूरी – भाई की पूजा सही तरह से करने के लिए ज़रूरी है की जिस भी स्थान पर बैठ कर पूजा की जाने वाली है वहां पहले चावल के घोल से चॉक रुपी आसन बना लिया जाय। फिर उस आसन पर बिठा कर ही भाई को पूजा जाय। ऐसा करने से भाई के जीवन में स्थिरता आती है और उसकी सारी रुकावटें दूर हो जाती हैं।

यमुना नदी में करें स्नान – पौराणिक कथाओं के अनुसार यमुना नदी अपने अपने भाई यम से मिलने के लिए बेहद व्याकुल थी। उनके भाई यम यमुना से इसी दिन मिलने आए थे, इसलिए ऐसा माना जाता है की इस दिन जो भाई बहन यमुना नदी में नाहा लेते है उन्हें मोक्ष की प्राप्ति होती है। अगर आपके लिए यमुना नदी में जाकर नहाना संभव नहीं है तो यमुना का पानी मंगवाकर अपने व अपने भाई के ऊपर छिड़काव कर लें। ऐसा करना आपके भाई के लिए बहुत लाभदायक रहेगा।

भाई ही जाये बहन के घर – इस दिन भाई को ही अपनी बहन के घर जाना चाहिए। बहन अपने भाई के घर जाने से बचें क्यूंकि ऐसा करना उसके लिए लाभदायक नहीं होगा। ऐसा कहा गया है की जब यम अपनी बहन यमुना से मिलने आए थे तो उन्होंने यमुना से यह कहा था की जिस तरह यम खुद अपनी बहन से मिलने आए ऐसे ही हर भाई इस दिन अपनी बहन से मिलने जाए ताकि उन्हें भी मोक्ष, सुख, समृद्धि और यश की प्राप्ति हो सकें। इसी कारणवश इस दिन हर भाई को अपनी बहन से मिलने जाना चाहिए।

अगर आप भाईदूज के दिन ये चीज़ें करना नहीं भूलेंगी तो आपके भाई की ना सिर्फ आयु लम्बी होगी बल्कि उसके मान सम्मान और दौलत में भी वृद्धि होगी। अपने भाई की अच्छी ज़िन्दगी के लिए इन बातों का खास ख्याल रखें। अगर आपको अपने भाई की खुशहाली के लिए उपाय जानने है तो हमारे विशेष ज्ञानियों से संपर्क करें, कॉल करें 8882-236-236

 

Solmantra Best expert advice

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0